ओलंपियाड्स को क्रैक करने और विजेता बनने के कुछ आसान ट्रिक्स!

लेखक :
आर. एल. त्रिखा,
निदेशक, फिटजी
 
सुनहरे कल की ओर बढ़ने के लिए आपके लिए यह जरूरी है कि आज आप अपने को सुव्यवस्थित करें। पढ़ाई के प्रति गंभीर हर छात्र अपनी अकादमिक सफलता का सपना देखता है और इस सपने को साकार करने के लिए यह जानना जरूरी है कि सफलता के मार्ग पर कैसे बढ़ें और कैसे एक सफल रणनीति बनाएं।
यदि आप ओलंपियाड में महत्वाकांक्षी सफलता चाहते हैं, आपके लिए रणनीतिक योजना बनाना जरूरी हो जाता है। हमेषा याद रखें – किसी योजना के बिना लक्ष्य केवल इच्छा मात्र है। जैसा कि हम सभी जानते हैं, ओलंपियाड, जैसे साइंस ओलंपियाड,  मैथेमेटिकल ओलंपियाड या अस्ट्रोनोमी ओलंपियाड, छात्रों के लिए भारत और विदेशों में होने वाली चुनौतीपूर्ण प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए खुद को तैयार करने के लिए सीखने के बहुत ही बेहतरीन अवसर हैं। ये परीक्षाएं न केवल छात्र के आत्मविश्वास को बढ़ाने में मदद करती हंै बल्कि उन्हें अपनी खुद की क्षमता को चुनौती देने और आत्म- मूल्यांकन करने और परिपक्व होने में भी मदद करती हंै। लगभग हर छात्र अपने स्कूल में कम से कम एक ओलंपियाड में हिस्सा अवष्य लेता है लेकिन ओलंपियाड में हिस्सा लेना अंधेरे में तीर चलाने की तरह नहीं होना चाहिए। कोई भी प्रतिस्पर्धी / शैक्षिक परीक्षा में सफल होने के लिए आपको सही रणनीति, विधिवत दृष्टिकोण, समर्पण और रूख अपनाना चाहिए। यहां उन बिंदुओं की सूची दी गई है जो आपको ओलंपियाड के लिए अच्छी तरह से तैयार करने में मदद करेंगे और आप अपने इस रास्ते में किसी भी बड़ी बाधा का सामना किए बिना आपके निर्धारित लक्ष्य को हासिल करके विजेता के रूप में उभरेंगे।
 
तैयारी की षुरूआत जल्द करें 
किसी कार्य की षुरूआत करने का कोई खास दिन नहीं होता है। आज से आप षुरूआत कर सकते हैं – जैसे ही आप अपने लक्ष्य निर्धारित कर लेते हैं, आप अपने लक्ष्य को पार करने के प्रति अपने को अनुकूल बनाने लगते हैं। आप केवल अपनी तैयारी थोड़ा पहले षुरू करें। जल्द तैयारी षुरू करना केवल ओलंपियाड में सफल होने की कंुजी नहीं है, बल्कि हर प्रतिस्पर्धी/षैक्षिक परीक्षा में उत्कृश्टता हासिल करने की कुंजी है। अगर आप जल्द तैयारी षुरू करते हैं तो आप सही समय पर अपनी तैयारी पूरी कर लेंगे और आप समय से पहले नहीं थकेंगे। आप अपने को भरपूर समय दें, अपनी प्रगति को देंखे तथा अपने लक्ष्य पर नजर रखें। याद रखें कि दुनिया भर में लाखों छात्र ओलंपियाड देते हैं। यह इस बात का संकेत है कि आप जिन सवालों को लेकर अभ्यस्त हैं उनसे कहीं कठिन सवाल इसमें पूछे जाने वाले हैं। इसलिए आपको हर कंसेप्ट को पूरी तरह से समझने के लिए समय चाहिए।
सही दृष्टिकोण अपनाएं 
अपने जीवन में अपनी सबसे बड़ी क्षमता प्राप्त करने की दिशा में आप जो सबसे महत्वपूर्ण कदम उठा सकते हैं उनमें में से एक है सकारात्मक दृष्टिकोण हासिल करने के बारे में सीखना। साकारात्मक दृश्टिकोण का असर आपके प्रदर्षन और आपके आसपास की हर चीज पर पड़ता है। इसलिए आप इससे पहले की अकादमिक उत्कृष्टता की ओर बढ़ें, आपके लिए दृष्टिकोण को सही तरीके से प्राप्त करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है। लक्ष्य की ओर एक आशावादी दृष्टिकोण अपनाने से आपको सही उत्साह और जुनून के साथ मार्ग में आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।
अपने पाठ्यक्रम को जानें
आप अपने क्लास नोट्स तथा एनसीईआरटी पाठ्यपुस्तकों को पूरी तरह से पढ़ें। आप अपने बेसिक को मजबूत करें। यदि आप कंसेप्ट्स को अच्छी तरह से जानते हैं, तो आप किसी भी प्रश्न का उत्तर दे सकते हैं, यहां तक कि घुमाकर पूछे जाने वाले मुश्किल सवाल का जवाब भी बता सकते हैं। विज्ञान और गणित जैसे विषयों में आपको अपनी नींव मजबूत बनानी चाहिए। तैयारी करने की युक्तियों को तर्कसंगत बनाने के लिए, परीक्षा के पाठ्यक्रम और पैटर्न को अच्छी तरह से जानना जरूरी है। सुनिश्चित करें कि आप जिस कठिनाई के स्तर वाली सामग्रियों / विशयों से अवगत हुए हैं वे वास्तविक परीक्षा के साथ भी जुड़े हैं। ओलंपियाड के लिए सही अध्ययन सामग्रियां खोजने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातें :
ऽ पाठ्यक्रम और सैम्पल पेपर डाउनलोड करें : इंटरनेट पर कई विश्वसनीय वेबसाइट या ऑनलाइन रिसोर्स हैं जहां से आप परीक्षा के विभिन्न सैम्पल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं जो आपको अपनी तैयारी को मापने और परीक्षा का सही रूझान हासिल करने में मदद करेंगे।
ऽ मॉक टेस्ट लें :
अगर आप मॉक टेस्ट लेते हैं तो इससे आपको कमजोर विशयों का पता लगाने तथा उन विशयों में और तैयारी करने में मदद मिलेगी। यह आपको ओलंपियाड तैयारी के लिए आवश्यक समय निर्धारित करने में मदद करेगा।
सफलता पाने के लिए गाइड करने वाले सही सलाहकार खोजें
आज के गलाकाट प्रतिस्पर्धी माहौल में, आपके पास एक सही सलाहकार होना आवश्यक है जो आपका मार्गदर्शन कर सके और आपको अंतिम सफलता की ओर अग्रसर करते हुए आपकी पढ़ाई पर भी नज़र रख सके। एक अच्छा सलाहकार आपको विशिष्ट कौशल और ज्ञान सीखने और विकसित करने में मदद करेगा। तो, आप एक ऐसा शिक्षक ढूंढें जो अच्छा हो और जो आपके वर्तमान स्तर और वांछित स्तर के बीच के अंतर को जान सके और आपको अपने सपनों के लक्ष्य की ओर बढ़ता देख सके।
अपने शेड्यूल का पालन करें और अपनी तैयारी रणनीति की निगरानी करें
यह वह समय है जब आपने अपने लिए एक रणनीति या शेड्यूल तैयार किया होता है। आप उस शेड्यूल का पालन करें और इससे दूर होने से बचें। सफलता के लिए आपके दृढ़ संकल्प की जरूरत होती है। दृढ़ रहें और अपने शेड्यूल का पालन करते हुए परीक्षा के दिन अधिक से अधिक बेहतर प्रदर्षन करें। एक बार जब आप तैयारी पथ पर चलना शुरू कर देते हैं, तो अपनी प्रगति की निगरानी करना न भूलें। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप सही दिषा में जा रहे हैं इसके लिए आप आपने कौषल एवं ज्ञान का नियमित तौर पर परीक्षण करें। 
अपने स्वास्थ्य पर नजर रखें ‘‘काम ही काम, न कोई मोद न आराम, फिर कैसे चमके चिपटू राम।’’ यह एक पुरानी कहावत हो सकती है लेकिन आज भी यह कहावत काम लायक है। उत्कृष्टता हासिल करने के प्रयास में, आपको अपने स्वास्थ्य की अनदेखी नहीं करनी चाहिए। आप ऐसा कठोर षेड्यूल नहीं बनाए कि आपका स्वास्थ्य ही प्रभावित होने लगे। रोजाना समुचित व्यायाम करें, स्वास्थवर्द्धक आहार लें और छोटा ब्रेक लें। इससे आपको न केवल फिट रहने में मदद मिलेगी बल्कि आप अपनी पढ़ाई पर अधिक और बेहतर तरीके से ध्यान केन्द्रित कर सकेंगे।
ओलंपियाड के लिए त्वरित टिप्स और ट्रिक्स
ऽ सीखने के लिए सबसे बढ़िया दृष्टिकोण अपनाएं। निर्धारित पुस्तकों को पढ़े तथा चरणबद्ध तरीके से सभी क्षेत्रों में अच्छी तरह से महारत हासिल करें।
ऽ ओलंपियाड पर ऑनलाइन मंच / चैट पर बहुत अधिक समय व्यतीत करने से बचें क्योंकि वे कभी-कभी अप्रासंगिक हो सकते हैं।
ऽ ओलंपियाड प्रैक्टिस पेपर और ओलंपियाड सैम्पल पेपर के महत्व को कभी भी कम करके नहीं आंके। ये ओलंपियाड तैयारी के लिए अंतिम गाइडपोस्ट हैं। इनका नियमित तौर पर प्रैक्टिस करें तथा हर बार अपने स्कोर में सुधार करने की कोषिष करें।
ऽ प्रतिशत स्कोर आपको यह पता लगाने में मदद करता है कि आप फोरम में दूसरों की तुलना में कहां खड़े हैं, इसलिए, उन्हें गंभीरता से लें और धीरे-धीरे अपना रास्ता तैयार करें लेकिन निश्चित रूप से सफलता की दिशा में।
परीक्षा पैटर्न – सही परिप्रेक्ष्य में इसे जानें
ओलंपियाड अलग-अगल के बजाय निर्धारित पैटर्न का पालन करता है और इसमें निष्चित संख्या में सवाल होते हैं जैसा कि पहले ही प्रासंगिक वेब साइट / वीडियो सर्कुलर के जरिए घोशित किया जा चुका है।
प्रथम स्तर की परीक्षा में आपके प्रदर्शन के आधार पर, आपको रैंक दिया जाता है। यह रैंक निर्धारित करता है कि आप दूसरी स्तर की परीक्षा के लिए अर्हता प्राप्त करते हैं या नहीं। प्रथम स्तर की परीक्षा में भाग लेने वाले छात्रों के कक्षा बार प्रथम पूर्व निर्धारित प्रतिशत तथा राज्य वार षीर्श निर्धारित निर्दिष्ट रैंक धारकों को अगले स्तर के लिए अर्हता प्राप्त होती है। परीक्षा पैटर्न के बारे में ज्ञान रखने से आपको सही स्वभाव में मदद मिलेगी।
अंत में, आप सफलता हासिल करेंगे या नहीं, सब कुछ आप पर निर्भर है। इसलिए आप धैर्य रखें और आत्मविश्वास रखें। आप आसानी से सफलता हासिल कर सकेंगे। जब ओलंपियाड में सफलता की बात आती है, तो यह आपको सीखने और अभ्यास के प्रति केंद्रित दृष्टिकोण के साथ अभ्यास और स्मार्ट तरीके से काम करना जरूरी है। जब आप ओलंपियाड के लिए तैयारी कर रहे होते हैं तो खुद को ओवरस्ट्रेस न करें। बस अपने प्रयासों को सही दिशा में रखें और आप सफल होने के लिए निश्चित रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *