देश

कोरोना पीड़ितों की संख्या 63 लाख के पार, मृतकों की संख्या 98 हजार से ऊपर

नई दिल्ली (ईएमएस)। देश में बुधवार को कोरोना संक्रमण के 77,852 नए मामले सामने आने के साथ पीड़ितों की संख्या बढ़कर 63 लाख 1 हजार 371 हो गई। बुधवार को 74,549 मरीजों को कोरोना से मुक्ति मिली और ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 52 लाख 60 हजार से अधिक हो गई।
बुधवार को महाराष्ट्र में 481 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत होने के साथ मृतकों की संख्या 36,662 हो गई। जबकि सारे देश में 98,592 लोगों की मृत्यु हो गई। इस प्रकार जल्द ही भारत में कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या एक लाख के पार होने की आशंका है। देश में बड़ी तादाद में कोरोना संक्रमित मरीजों का मिलना जारी है।
बुधवार को आंध्र प्रदेश में 6133, कर्नाटक में 8556, तमिलनाडु में 5659, उत्तरप्रदेश में 4226, दिल्ली में 3390, पश्चिम बंगाल में 3281, ओडिशा में 3440, केरल में 8830, तेलंगाना में 2103, बिहार में 1435, गुजरात में 1390, राजस्थान में 2173, हरियाणा में 1625, मध्यप्रदेश में 2004, झारखंड में 1111 नए संक्रमित मरीज मिले। केरल में संक्रमित मरीजों का प्रतिशत सबसे ज्यादा है। यहां पर पॉजिटिविटी रेट भी बहुत अधिक है। केरल में बुधवार को 63।7 हजार कोरोना टेस्ट हुए जिनमें 8830 मरीज मिले। इस प्रकार राज्य में पॉजिटिविटी रेट 13.86% है। हालांकि यहां पर मृत्यु दर 0.38% ही है। कई बड़े राज्यों के मुकाबले केरल में ज्यादा टेस्ट हो रहे हैं इसलिए यहां पर कोरोना के मरीजों की संख्या भी अधिक मिल रही है। महाराष्ट्र जैसे राज्य में बुधवार को 87।2 हजार टेस्ट हुए। यहां पर भी पॉजिटिविटी रेट ज्यादा है और यहां टेस्ट बढ़ाने की आवश्यकता है, क्योंकि यहां की जनसंख्या केरल के मुकाबले अधिक है। प्रतिदिन टेस्ट के मामले में उत्तरप्रदेश और बिहार देश में सबसे ऊपर हैं। दोनों राज्यों में एक लाख से अधिक टेस्ट प्रतिदिन होते हैं। इस हिसाब से यहां संक्रमण उतना नहीं है। मध्यप्रदेश जैसे बड़े राज्य में प्रतिदिन 23 हजार के आसपास कोरोना टेस्ट होना चिंताजनक है क्योंकि यहां पर भी पॉजिटिविटी रेट बहुत ज्यादा है। मध्यप्रदेश में अधिक टेस्ट कराने की आवश्यकता है।
कोरोना संक्रमण को देखते हुए महाराष्ट्र ने 31 अक्टूबर तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया है। हालांकि कुछ छूट भी दी गई है। उधर केंद्र सरकार ने अनलॉक – 5 के अगले चरण में सिनेमाघर खोलने सहित कई छूट दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *