देश

प्रभारी सचिव पिंगुआ ने किया ब्लाॅक प्लांटेशन क्षेत्र का निरीक्षण

बलरामपुर ( ईएमएस)। छत्तीसगढ़ शासन के प्रमुख सचिव वाणिज्य एवं उद्योग, वन तथा जिले के प्रभारी सचिव श्री मनोज कुमार पिंगुआ जिला प्रवास पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने विकासखंड राजपुर के अमड़ीपारा तथा ककना में ब्लॉक प्लांटेशन क्षेत्र का निरीक्षण किया। उद्यानिकी विभाग द्वारा अमड़ीपारा में 5 हेक्टेयर क्षेत्र में मुनगा के पौधे लगाए गए हैं। वहीं वन परिक्षेत्र राजपुर के ककना में वन विभाग द्वारा कैम्पा मद से 5 हेक्टेयर क्षेत्र में चंदन तथा 15 हेक्टेयर क्षेत्र में मिश्रित फलदार पौधों का रोपण किया गया है। उन्होंने वन तथा उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों से चर्चा करते हुए पौधों के रोपण वर्ष, उसकी वृद्धि तथा उपयोगिता के बारे में विस्तृत जानकारी ली।
प्रमुख सचिव श्री मनोज कुमार पिंगुआ ने विकासखंड राजपुर के अमड़ीपारा में ब्लॉक प्लांटेशन निरीक्षण के दौरान अधिकारियों से चर्चा करते हुए कितने क्षेत्र में मुनगा के पौधे लगाए गए हैं तथा इसका किस प्रकार उपयोग किया जाएगा, इसकी जानकारी ली। उद्यान विभाग के अधिकारियों ने उन्हें बताया कि मनरेगा के माध्यम से मुनगा के पौधे लगाए गए हैं, जिसकी जिम्मेदारी स्व-सहायता समूह को दी गई है। प्रभारी सचिव द्वारा मुनगा की उपयोगिता पूछने पर अधिकरियों ने बताया कि मुनगा के फल का विक्रय किया जाएगा तथा इसकी पत्तियों का पाउडर तैयार कर सुपोषण अभियान में उपयोग किया जाएगा। मुनगे की पत्तियों में औषधीय गुणों के साथ-साथ प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व मौजूद है, इसके सेवन से पोषक तत्वों की कमी पूरी होती है। अमडीपारा ब्लॉक प्लांटेशन क्षेत्र के सामने फूड पार्क के लिए स्थान चिन्हित है प्रभारी सचिव ने उद्यान अधिकारी को इस क्षेत्र में बागानी फसलों को बढ़ावा देने के निर्देश दिए ताकि फूड प्रोसेसिंग उद्योग का विस्तार हो पाए।
इसके पश्चात प्रमुख सचिव श्री पिंगुआ ने विकासखण्ड राजपुर के ककना स्थित चंदन तथा मिश्रित फलदार पौधों के प्लांटेशन क्षेत्र का निरीक्षण किया। अधिकारियों ने उन्हें पूरे प्लांटेशन क्षेत्र का भ्रमण कराया तथा रोपित पौधों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी। प्रभारी सचिव श्री पिंगुआ ने चंदन के विभिन्न प्रजातियां जैसे रक्त चंदन तथा सामान्य चंदन के गुणों के बारे में पूछा तथा पौधे कितने समयावधि में तैयार हो जाते हैं, इसकी जानकारी ली। उन्होंने मिश्रित फलदार पौधरोपण क्षेत्र का निरीक्षण किया, जहां 15 हेक्टेयर में विभिन्न प्रजातियों के 16500 पौधे लगाए गए हैं जिसमें आम, कटहल, अर्जुन, काजू, महुआ, बेल, जामुन, इमली जैसे प्रजातियों के वृक्ष शामिल हैं। प्रभारी सचिव ने पौधों के उचित रखरखाव तथा देखभाल करने के निर्देश दिए।
इस दौरान मुख्य वन संरक्षक सरगुजा वन वृत्त श्री ए.बी.मिंज, वनमण्डलाधिकारी सरगुजा श्री पंकज कुमार कमल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व राजपुर श्री आर.एस.लाल, सहायक संचालक उद्यान श्री पतराम सिंह सहित अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित थे।
पंकज/किसुन/16 अक्टूबर 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *