लेख

चुनावों में मुफ्तखोरी वाली संस्कृति

आज हमें यह देखने को मिल रहा है कि सत्ता में रहने वाले अपने कामों से जनता को प्रभावित नहीं कर पाते लेकिन जैसे ही साथियों चुनाव नजदीक आते हैं ,तो राजनैतिक दल अपने पक्ष में सकारात्मक धारणा बनाने के उद्देश्य से लोकलुभावन घोषणाओं की पैंतेरेबाजी अपनाते हैं। बिहार विधानसभा के चुनाव को ही  ध्यान से […]

लेख

विज्ञापनों की भाषा बदल रही है

आज की दुनिया विज्ञापन के लुभावने मायाजाल में रची-बसी है। इसकी भाषा और तरीके पहले साधारण होते थे। मकसद होता था व्यापार करते हुए भी ग्राहक की भावनाओं को बनाए रखना। अखबार, मैगजीन्स तक सिमटे विज्ञापन अब टीवी के माध्यम से घर-घर पहुंच रहे हैं। तेल-साबुन से लेकर जीवन साथी के चयन की उपलब्धता भी […]

लेख

भारतीय त्योहारों का महत्त्व

भारत त्योहारों और मेलों का देश है। वस्‍तुत: वर्ष के प्रत्‍येक दिन उत्‍सव मनाया जाता है। पूरे विश्‍व की तुलना में भारत में अधिक त्योहार मनाए जाते हैं। प्रत्‍येक त्योहार अलग अवसर से संबंधित है, कुछ वर्ष की ऋतुओं का, फसल कटाई का, वर्षा ऋतु का अथवा पूर्णिमा का स्‍वागत करते हैं। दूसरों में धार्मिक […]

लेख

विज्ञापनों की भाषा बदल रही है

आज की दुनिया विज्ञापन के लुभावने मायाजाल में रची-बसी है। इसकी भाषा और तरीके पहले साधारण होते थे। मकसद होता था व्यापार करते हुए भी ग्राहक की भावनाओं को बनाए रखना। अखबार, मैगजीन्स तक सिमटे विज्ञापन अब टीवी के माध्यम से घर-घर पहुंच रहे हैं। तेल-साबुन से लेकर जीवन साथी के चयन की उपलब्धता भी […]

लेख

वायु प्रदूषण कारण ,दुष्प्रभाव ,बचाव और होमियोपैथिक चिकित्सा—–डॉ एम डी सिंह———————————————————————————————————————————————————————

सरकार  द्वारा  अनलॉक  की प्रक्रिया पूरी  करने के बाद अब  फैक्टरियां , दफ्तर ,सड़क , रेल , हवाई यातायात , आदि सामान्य रूप से चलने से बाताबरण में बायु प्रदूषण में इज़ाफ़ा रिकॉर्ड किया जा रहा है / इसी समय हर साल किसान अपनी फसल /पराली खेतों में जलाते हैं जिससे महानगरों में प्रदूषण कई गुना बढ़ जाता हैं   / राजधानी […]

लेख

विश्व की सभी शक्तियों में प्रशंसा की शक्ति का अपना विशिष्ट स्थान है।

अगर सच में पूछा जाए तो विश्व की सभी शक्तियों में, जिनमें धन, ज्ञान, एश यह सभी शक्तियां सम्मिलित तो जरूर है लेकिन उनमें प्रशंसा की शक्ति का अपना एक विशिष्ट स्थान होता है। जैसा कि हम  सभी जानते हैं कि गांधी जी ने अपने साथ आदर्शवादी एवं दृढ़ प्रतिज्ञ नेताओं की ऐसी टीम तैयार […]

लेख

बिहार में बदले समीकरण

दिग्गज दलित नेता रहे रामविलास पासवान के निधन के बाद राजनीतिक हल्कों में यह सवाल खड़ा हो गया है कि क्या लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान संभावित सहानुभूति के सहारे पिता की विरासत संभाल पाएंगे? बिहार चुनाव के बाद इस सवाल का जवाब हर किसी को मिल जाएगा। वैसे, रामविलास पासवान का ऐन चुनाव के मौके […]

लेख

हाथरस के बहाने हिंसा

हाथरस में एक युवती से हुई बर्बरता ने निश्चित रूप से सभी संवेदनशील लोगों को झकझोर कर रख दिया है। किसी भी जागरूक समाज में अवाम और दलों से ऐसी प्रतिक्रिया की उम्मीद की जाती है, क्योंकि राजनीतिक हस्तक्षेप बड़े और सकारात्मक बदलावों का वाहक बन सकते हैं। एक स्वस्थ लोकतांत्रिक व्यवस्था में जनता और […]

लेख

” आप ही के अंदर शक्तियों का महावृक्ष है “

सफलता प्राप्त करने के लिए जबरदस्त सतत प्रयत्न और जबरदस्त इच्छा रखो आप, अपने आप में विश्वास रखिए जब भी विचलित हो आप तो यह शब्द जरूर बोलो कि मैं समुंद्र पी जाऊंगा मेरी इच्छा से पर्वत टुकड़े-टुकड़े हो जाएंगे। इस प्रकार की शक्ति और इच्छा आप रखो, इसके साथ ही कड़ा परिश्रम करो। देखना […]

लेख

भविष्य की सबसे बड़ी चुनौती साइबर जंग होगी

देखो आप दोस्त साइबर स्पेस के खतरों की बात अब काल्पनिक नहीं रह गई है। पिछले दिनों ही देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  की पर्सनल वेबसाइट के टि्वटर अकाउंट को ही हैकरो ने हैक कर लिया  था ।सूत्रों के मुताबिक हैकर  ने कोविड-19 रिलीफ फंड के लिए डोनेशन में बिटक्वॉइन की मांग की। हालांकि तुरंत […]